तो आज जिंदा होती श्रद्धा,दो साल पहले भांप लिए थे आफताब के इरादे, पिटाई और उसके अफेयर पर भी चुप रही

तो आज जिंदा होती श्रद्धा,दो साल पहले भांप लिए थे आफताब के इरादे, पिटाई और उसके अफेयर पर भी चुप रही