Etawah : शादी से पहले लड़के ने कुछ ऐसा किया कि पुलिस को घर आना पड़ा, मां बोली मुझे बहू देखनी थी लेकिन बेटा...

इटावा के लायन सफारी क्षेत्र के पास जंगल में एक युवती का शव पुलिस को बरामद हुआ, पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच टीम बना दी, जिस पर कुछ ही घंटे में पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

कहानी कुछ इस प्रकार है थाना बैदपुरा के निवासी लल्ला सिंह ने अपनी बेटी अर्चना की शादी जसवंतनगर के निवासी नीलेश जाटव के साथ तय कर दी थी, नीलेश जाटव अरुणाचल प्रदेश में सशस्त्र सीमा सुरक्षा बल में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात है। नीलेश और अर्चना की सगाई 6 जुलाई को बड़ी धूमधाम से की थी और उसमें लड़की पक्ष ने लाखों रुपए खर्च किए थे। नवंबर के महीने में शादी होनी थी लड़की पक्ष ने भी सभी तैयारियां कर ली थी लेकिन एसएसबी में तैनात नीलेश के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था, नीलेश ने अर्चना को फोन पर बुलाया और घूमने की बात कही जिस पर अर्चना वैदपुरा से इटावा की लायन सफारी घूमने के लिए आई, आपस में प्रेम प्रसंग की बातें हुई उसके बाद नीलेश ने लायन सफारी के पास जंगल में ले जाकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। शव को झाड़ियों से ढक कर भाग गया, पुलिस ने गिरफ्तार नीलेश से पूछताछ की तो नीलेश ने बताया कि वह किसी दूसरी लड़की से शादी करना चाहता था, उसने यह बात लड़की पक्ष को भी बताई थी लेकिन लड़की पक्ष के परिवार और खुद अर्चना ने मानसिक तौर पर दबाव बनाया कि हम तुम को जेल भेज देंगे शादी हमसे ही करनी होगी इसलिए हत्या कर दी।

एसपी सिटी कपिल देव सिंह ने हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि थाना सिविल लाइन क्षेत्र में लायन सफारी के पास एक लावारिस स्कूटी खड़े होने की सूचना मिली थी वहां पुलिस ने पहुंचकर सर्च अभियान चलाया था। स्कूटी के नंबर से पता चला की वैदपुरा के लल्ला सिंह की बेटी स्कूटी लेकर निकली थी सर्विलांस की टीम से और क्षेत्र की पुलिस से पूछताछ की निलेश कुमार नामक व्यक्ति ने एसएसबी में तैनात है शादी तय हुई थी उनके साथ लड़की गई हुई थी जब हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो नीलेश के द्वारा बताया गया कि यह घटना कैसे कारित की गई है, निशानदेही पर डेड बॉडी की बरामदगी की गई है, बॉडी को पत्तियों झाड़ियों से छिपा दिया गया था, इसमें नियमानुसार अभियोग पंजीकृत किया गया है, कार्रवाई की जा रही है। पूछताछ में पता चला है कि यह किसी परिचित दूसरी लड़की से शादी करना चाहते थे, नीलेश का कहना है कि मृतक लड़की के पिता इस पर दबाव बनाते थे जेल भिजवा देंगे शादी करनी पड़ेगी इस तरह का तथ्य प्रकाश में आया है। आरोपित नीलेश दस दिन की छुट्टी लेकर आया था, एसएसबी में हेड कांस्टेबल के पद पर कार्यरत है। वर्तमान में अरुणाचल प्रदेश में पोस्टिंग है।