कैसे आता है भूकंप और क्या है वजह? जानिए! 

आपको बता दें, पृथ्वी चार परतों (इनर कोर, आउटर कोर, मैंटल और क्रस्ट) से बनी है. क्रस्ट पृथ्वी की सबसे ऊपरी परत होती है और इसके बाद मैंटल होता है.

क्रस्ट और मैंटल, दोनों मिलकर लीथोस्फेयर बनाते हैं. इसकी मोटाई 50 किलोमीटर है. जो अलग-अलग परतों वाली प्लेटों से मिलकर बनी है. जिसे टेक्टोनिक प्लेट्स कहते हैं. 

धरती के अंदर सात टेक्टोनिक प्लेट्स हैं. ये प्लेट्स घूमती रहती हैं. जब ये प्लेट आपस में टकराती हैं, एकदूसरे के ऊपर चढ़ती या उनसे दूर जाती हैं, तब जमीन हिलने लगती है.
इसे ही भूकंप कहते हैं.

भूकंप को नापने के लिए रिक्टर मैग्नीट्यूड स्केल का इस्तेमाल करते हैं. इसमें 1 से 9 तीव्रता तक भूकंप का पैमाना होता है. 1 यानी कम तीव्रता की ऊर्जा, 9 यानी सबसे ज्यादा. 

भूकंप की तीव्रता को उसके केंद्र यानी एपीसेंटर से नापा जाता है. यानी उस केंद्र से निकलने वाली ऊर्जा को इसी स्केल पर मापा जाता है. 

 भूकंप चार प्रकार के (Induced Earthquake, Volcanic Earthquake, Collapse Earthquake, Explosion Earthquake) होते हैं.

Want more stories
like this?