पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन के मौके पर जानें उनसे जुड़ी खास बातें!

पंडित नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को कश्मीर के एक पंडित परिवार में हुआ था.

पंडित नेहरू ने 1907 में कैम्ब्रिज के ट्रिनिटी कॉलेज में दाखिला लेने के बाद 1910 में नैचुरल साइंस में ऑनर्स की डिग्री हासिल की.

वह अगस्त 1912 में भारत लौट आए और इलाहाबाद उच्च न्यायालय में एक वकील के रूप में नामांकन करके खुद को एक बैरिस्टर के रूप में स्थापित किया.

पंडित नेहरू ने साल 1916 में शादी की. उनकी धर्मपत्नी का नाम कमला नेहरु था. इसके एक साल बाद 1917 में  वह होम रुल लीग से जुड़े.

 पंडित नेहरू 1929 में कांग्रेस के अध्यक्ष बने और आजादी की लड़ाई में एक प्रमुख भूमिका निभाई, जिसका नेतृत्व कांग्रेस कर रही थी.

 आजादी की लड़ाई के दौरान नेहरू को 9 अलग-अलग बार जेल भेजा गया. कुल मिलाकर, अंग्रेजों ने उनको 3259 दिनों के लिए कैद किया, जो उनके जीवन के 9 साल के बराबर थे.

उन्होंने 1935 में जेल में रहते हुए आत्मकथा लिखी. इसका नाम "टुवार्ड फ्रीडम" रखा गया था, जिसे 1936 में संयुक्त राज्य अमेरिका
 में जारी किया गया था.

 पंडित नेहरू को कभी नोबेल पुरस्कार नहीं मिला, हालांकि  वर्ष 1950 से 1955 के बीच उन्हें 11 बार नामांकित किया गया था. 

पंडित नेहरू का दिल का दौरा पड़ने से 27 मई 1964 को  निधन हो गया. उनके दाह संस्कार में लगभग 1.5 मिलियन लोग शामिल हुए थे.

Want more stories
like this?