जानिए फ़िल्म इंडस्ट्री की पहली फीमेल मेकअप आर्टिस्ट चारू खुराना को. मां के गहने बेचकर खरीदी किट, 4 साल सुप्रीम कोर्ट में लड़ी तब मिली बॉलीवुड में एंट्री.

बता दें, साल 2014 के पहले तक देश की किसी फिल्म इंडस्ट्री में महिला मेकअप आर्टिस्ट नहीं होती थी. चारू खुराना ने देश की फिल्म इंडस्ट्री के निजाम को बदल डाला. 

हीरो-हीरोइन का मेकअप पुरुष ही करते थे, चाहे मेकअप सिर्फ चेहरे का हो या फुल बॉडी हो. इसके लिए चारू ने सुप्रीम कोर्ट में चार साल तक लड़ाई लड़ी और जीती. उनकी शादी और दो बच्चे केस के दौरान ही हुए.

चारू का जन्म हरियाणा में हुआ. उन्हें हमेशा से ही पढ़ाई में कम और आर्ट्स में ज्यादा रुचि थी. मेकअप करने पर उन्हें 250 रुपए मिले, जो उनकी पहली फीस थी. वो मेकअप को अपना प्रोफेशन बनाना चाहती थी.

साल 2000 के समय कोई प्रोफेशनल मेकअप कोर्स नहीं था. ऐसे में 2 घंटे की क्लास के लिए 11000 रुपए फीस मांगी गई जिसके कारण वो वहां बिना सैलरी 2 साल काम किया.

साल 2008 में विदेश जाकर 32 लाख
 का मेकअप कोर्स किया. वहां प्रोस्थेटिक
और 3D मेकअप सीखा और 2009 में मैं
कोर्स करके वापस आ गई. 

चारू अब तक अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा से लेकर बाहुबली फेम प्रभास,
अभिषेक बच्चन सहित कई बड़े-बड़े सितारों
 का मेकअप कर चुकी हैं.

आज चारू खुराना की बदौलत फ़िल्म
 इंडस्ट्री में 5000 से अधिक
 महिलाएं काम कर रही हैं.

Want more stories
like this?